खालिस्तानी आतंकी हरमिंदर दिल्ली में गिरफ्तार

harminder-mintu

जेल से फरार खालिस्तानी आतंकी हरमिंदर दिल्ली में गिरफ्तार

नई दिल्ली। पंजाब में नाभा की हाई सिक्योरिटी जेल से रविवार को फरार हुए खालिस्तानी आतंकवादी हरमिंदर सिंह मिंटू को दिल्ली पुलिस ने दिल्ली रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया है।
पंजाब और दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के ज्वाइंट ऑपरेशन में की गई कार्रवाई में आतंकी आया गिरफ्त में। जेल से भागने के बाद हरमिंदर मिंटू ने दिल्ली के सुभाष नगर में रहने वाले अपने रिश्तेदार को फोन किया था। इसी फोन के आधार पर पंजाब पुलिस ने दिल्ली पुलिस को जानकारी दी, जिसके बाद पंजाब पुलिस की टीम दिल्ली पहुंची और दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम के साथ मिलकर हरमिंदर मिंटू को गिरफ्तार कर लिया गया।
अब से थोड़ी देर में हरविंदर मिंटू को दिल्ली की कोर्ट में पेश करके ट्रांजिट रिमांड पर पंजाब पुलिस की टीम अपने साथ लेकर शाम तक पंजाब पहुंचेगी।
दरअसल रविवार सुबह करीब आठ बजे पुलिस की वर्दी में आए 8-10 हथियारबंद लोगों ने इस जेल पर हमला करके छह कैदियों को छुड़वा लिया था. हमलावरों ने दो पुलिसकर्मियों को भी घायल कर दिया था। हमलावर खालिस्तानी आंतकवादी हरमिंदर सिंह मिंटू के अलावा विक्की गोंडर, गुरप्रीत सिंह, नीटू दयोल, विक्रमजीत बिक्का और अमन सिंह टोडा को छुड़ाकर ले गए थे।
खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) का मुखिया बताए जा रहे हरमिंदर सिंह मिंटू के फिर से गिरफ्तार होने की खबर तमाम सुरक्षा एजेंसियों के लिए राहत की खबर लेकर आयी है। इससे पहले रविवार शाम को ही बताया गया कि पंजाब पुलिस ने आतंकियों को जेल से भगाने में वाले हमलावरों में से एक को उत्तर प्रदेश के शामली से गिरफ्तार किया है।
पंजाब जेल ब्रेक : छह फरार आतंकी, एक हमलावर यूपी से गिरफ्तार
पुलिस ने आतंकी और गैंगस्टर को भगाने में मदद करने वाले उनके एक साथी परमिंदर सिंह को उत्तर प्रदेश के शामली से गिरफ्तार किए जाने के बाद आतंकवादी मिंटू की गिरफ्तारी सुरक्षा एजेंसियों के लिए दूसरी बड़ी सफलता है। परमिंदर से वह कार भी बरामद की गई है, जिसमें वह आतंकियों को भगाकर ले गया था। गाड़ी से हथियार भी बरामद हुए।
आतंकियों और अपराधियों के जेल से भागने के मामले में रविवार को ही पंजाब के एडीजीपी (जेल) एमके तिवाड़ी को निलंबित और नाभा जेल के सुपरिडेंडेट व डिप्टी सुपरिडेंडेट को बर्खास्त कर दिया गया।

हमले में जेल कर्मियों की मिलीभगत : डीजीपी
नाभा जेल का दौरा करने क बाद डीजीपी अरोड़ा ने रविवार को कहा था कि वारदात में जेलकर्मियों की मिलीभगत है। एसआइटी गठित कर दी गई है। हमलावरों में हिंदू और सिख दोनों समुदाय के लोग शामिल थे। हमलावरों और फरार कैदियों के बारे में जानकारी देने वालों को 25 लाख रुपये के इनाम की भी घोषणा की गई। उन्होंने कहा, इस घटना के लिए जिम्मेदार किसी कर्मी को बख्शा जाएगा।

2014 में दिल्ली में पकड़ा गया था मिंटू

आतंकवादी हरमिंदर सिंह मिंटू खालिस्तान लिब्ररेशन फोर्स (केएलएफ) की मुखिया है। कई आतंकी वारदातों में शामिल होने के आरोपी 47 वर्षीय मिंटू को नवंबर 2014 में दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया था। पंजाब पुलिस के अनुसार हरमिंदर 2010 में यूरोप भी जा चुका है। 2013 में उसने पाकिस्तान छोड़ा था। यूरोप दौरे में उसने इटली, बेल्जियम, जर्मनी और फ्रांस की यात्रा की थी। खलिस्तान लिबरेशन फोर्स फंड जुटाने के लिए इंटरनेट का इस्तेमाल करने में आगे रहा है।

सुखबीर सिंह बादल पहुंचे नाभा जेल

पंजाब के उपमुख्यमंत्री व गृहमंत्री सुखबीर सिंह बादल रविवार शाम नाभा जेल पहुंचे और हालात का जायजा लिया। उन्होंने केंद्र सरकार के सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को भी पूरे मामले की जानकारी और राज्य सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में बताया। इससे पहले जेल पर हमले के बाद पूरे पंजाब में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया। नाभा सहित पूरे जिले में मुख्य मार्गों की नाकाबंदी कर दी गई और पुलिस ने जेल व इसके आसपास के इलाके को घेर लिया।
एडीजीपी (जेल) सस्पेंड, जेल सुपरिडेंडेट और डिप्टी सुपरिडेंडेट बर्खास्त
राज्य सरकार ने इस घटना के बाद एडीजीपी (जेल) एमके तिवाड़ी को निलंबित कर दिया। नाभा जेल के सुपरिडेंडेट परमजीत संधू और डिप्टी सुपरिडेंडेट करणदीप संधू को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त कर दिया गया। पंजाब के डीजीपी सुरेश अरोड़ा भी नाभा जेल पहुंचे और जांच की। उन्होंने जेल का निरीक्षण किया और पूरे घटनाक्रम के बारे में जानकारी हासिल की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *