BSF के जवान के विडियो वायरल होने से अफसरों की काली करतूत आए सामने ,राजनाथ कराएँगे पूरी जांच:वीडियो

BSF personnel who act against black officers from the viral video

BSF personnel who act against black officers from the viral video

BSF के जवान के विडियो वायरल होने से अफसरों की काली करतूत आए सामने ,राजनाथ कराएँगे पूरी जांच:वीडियो

जम्मू-कश्मीर में तैनात बीएसएफ के एक जवान ने अपने अफसरों पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

29वीं बटालियन के जवान तेज बहादुर यादव ने रविवार को फेसबुक पर एक के बाद एक अपना 4 वीडियाे पोस्ट किए।

इसमें उन्होंने खराब खाने की बहुत शिकायत करते हुए कहा कि हम सरहद पर जवान 11 घंटे की ड्यूटी करने के

बाद भी भूखे रहने व सोने को मजबूर हैं। क्योंकि बड़े अधिकारी बीच में ही राशन बेच देते हैं।

एक दिन में ही ये सारे वीडियो वायरल हो गए।

bsfbsfjawan

इस वीडियो को 65 लाख से ज्यादा बार देखे गए।

जवाब में सोमवार शाम को बीएसएफ ने ट्वीट कर कहा कि ‘शिकायत की जांच की जा रही है।

और बीएसएफ के सीनियर आॅफिसर मौके पर पहुंच चुके हैं।’

इस बीच गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बीएसएफ अधिकारी से रिपोर्ट मांगी है।

इन वीडियो में क्या कहा तेज बहादुर ने आप को बताते है

– ये यह पहला वीडियो-“सभी देशवासियों को मेरा नमस्कार, गुडमॉर्निंग, सलाम और जय हिंद।

देशवासियों, मैं आप सभी से एक अनुरोध करना चाहता हूं। मैं बीएसएफ 29 बटालियन सीमा सुरक्षा बल का एक जवान हूं।

जो कि हम लोग सुबह 6 बजे से लेकर शाम को पांच बजे तक कंटीन्यू इस बर्फ के

अंदर 11 घंटे तक खड़े होकर अपनी पूरी ड्यूटी करते हैं।”

– “कितनी भी बर्फ हो, बारिश हो या तूफान हो। हम इन्हीं हालातों में अपने पूरी ड्यूटी करते हैं। .

मेरे पीछे का दृश्य शायद आप सभी लोग देख रहे होंगे।

फोटो में शायद आपको लोग को ये दृश्य अच्छे लग रहे होंगे।

लेकिन, हमारी जो सिचुएशन है, हमे ना कोई मीडिया दिखाता है,

ना हमारी कोई मिनिस्टर सुनता है।”

– “कोई भी सरकार आई हो, हमारे हालात वही बदतर हैं।

मैं इसके बाद आप लोगो को तीन वीडियो भेजूंगा।

जो आप देश के तमाम मीडिया और नेताओं को वीडियो दिखाएं।

अफसरों पर गंभीर आरोप
– ये जवान आगे कहता है, “हमारे अधिकारी हमारे साथ कितना अन्याय और अत्याचार करते हैं।

हम सब किसी भी सरकार को कोई दोष नहीं देना चाहते।

क्योंकि सरकार हमे हर चीज, हर सामान देती है लेकिन उच्च अधिकारी

इन सामान को बिक्री करके खा जाते हैं। और हम जवनो को कुछ नहीं मिलता।”

– “कई बार ऐसे हालात होते है कि कई बार तो जवान को भूखे पेट ही सोना पड़ता है।

मैं आप लोगो को सुबह का नाश्ता आपको दिखाउंगा। एक पराठा मिलता है।

इसमें कुछ भी नहीं मिलता है ।

ना अचार है ना सब्जी आती है। केवल चाय के साथ पराठा खाना पड़ता है।”

– “दोपहर का खाना मैं आपको दिखाउंगा।

दाल में सिर्फ नमक और हल्दी मिली हुई होती है।

उसके सिवाय उस में कुछ नहीं होगा।

रोटियों के हालात भी दिखाउंगा।

मैं फिर ये ही कह रहा हूं कि भारत सरकार हमे सब कुछ देती है,

उसकी तरफ से हमे सब कुछ आता है।

काफी स्टोर भरे पड़े हैं लेकिन वो सब कुछ बाजार में चला जाता है।

ये कहां जाता है? इसे कौन बिक्री करता है? इसकी जांच होनी चाहिए।”

वीडियाे 2-3: दाल में हल्दी-नमक के अलावा जीरे का तड़का तक नहीं मिलता है

– “यह है बीएसएफ जवान के लिए दाल। इसमें सिर्फ हल्दी और नमक।

न इसमें प्याज है, न लहसुन, अदरक। तड़का लगाने के लिए जीरा तक नहीं मिला हुआ है।”

– “जवानों को 10 दिन से यही दाल-राेटी मिल रही।

आप सभी बताइये यह खाकर क्या कोई जवान 10 घंटे ड्यूटी कर सकता है?

अधिकारी यह सारा सामान बाजार में बेच देते हैं।”

वीडियो 4: नाश्ते में न अचार न दही, सिर्फ जला पराठा मिला

– “हम जवानों को सुबह के नाश्ते में एक जला हुआ पराठा और चाय का गिलास ही मिला है।

इसके साथ न जैम, न जेली और न अचार या दही कुछ भी नही आता है।

बीएसएफ ने कहा- तेज बहादुर को शुरू से काउंसिलिंग की बहुत जरूरत रही है

– सोमवार की रात बीएसएफ ने बयान जारी कर कहा कि तेज बहादुर को शुरू से काउंसिलिंग की बहुत जरूरत रही है।

शराबखोरी, अफसरों से खराब व्यवहार और अनुशासन तोड़ना उसकी आदत है।

इस कारण ज्यादातर वक्त उसे हेडक्वार्टर में रखा गया।

– 10 दिन पहले ही पोस्ट पर भेजा गया था,

यह देखने के लिए कि तेज बहादुर को काउंसिलिंग से क्या सुधार आया।

डीआईजी आैर सीओ उनके पास जाते रहे हैं। 20 और जवान वहां हैं।

पर किसी और को शिकायत नहीं है।

BSF personnel who act against black officers from the viral video राजनाथ

bsf viral video,BSF personnel who act against black officers,BSF officer that his outfit,BSF jawan’s plight

Save

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *