इनफार्मेशन कमीशन ने DU को दी है इज़ाज़त : PM मोदी बी.ए. डिग्री की जाँच और रिकॉर्ड देने के आर्डर

CIC allows inspection of DU records of PM Narendra Modi’s degree 1978

CIC allows inspection of DU records of PM Narendra Modi’s degree 1978

इनफार्मेशन कमीशन ने DU को दी है इज़ाज़त : PM मोदी बी.ए. डिग्री की जाँच  और रिकॉर्ड देने के आर्डर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बी.ए डिग्री के जांच के लिए सेंट्रल इनफार्मेशन कमीशन ने दिल्ली यूनिवर्सिटी को आर्डर दिया है और कहा है कि 1978 का बी .ए डिग्री का रिकॉर्ड दिखाए | दिल्ली यूनिवर्सिटी के अनुसार 1978 में बी.ए. कि डिग्री हासिल क़ी है | पिछले साल आम आदमी जनता पार्टी ने मोदी जी क़ी डिग्री पर सवाल किये थे तो दिल्ली यूनिवर्सिटी ने ये दावा किया था क़ी मोदी जी क़ी डिग्री सही है

DU क़ी दलील ख़ारिज :

— न्यूज़ एजेंसी के अनुसार इनफार्मेशन कमिश्नर श्रीधर आचार्युलु ने यूनिवर्सिटी की सेंट्रल पब्लिक इन्फॉर्मेशन ऑफिसर मीनाक्षी सहाय क़ी दलील ख़ारिज कर दी और कहा ये किसी तीसरे आदमी क़ी निजी जानकारी है |

— कमिश्नर ने ये कहा है कि न तो ये क़ानूनी तोर में सही ह न ही मेरिट के आधार पर सही है
— 1978 में भी नीरज नाम के एक शख्स ने यूनिवर्सिटी से बी.ए कि डिग्री लेने वाले स्टूडेंट्स का नाम , रोल नंबर , पिता का नाम और नंबर कि जानकारी मांगी थी |

– नीरज नाम के एक शख्स ने यूनिवर्सिटी से 1978 में बीए की डिग्री लेने वाले स्टूडेंट्स के रोल नंबर, नाम, पिता का नाम और नंबर की जानकारी मांगी थी।
— C I .C ने कहा है कि जानकारी कि कॉपी फ्री में दी जाये |

CIC allows inspection of DU records of PM Narendra Modi’s degree 1978
CIC allows inspection of DU records of PM Narendra Modi’s degree 1978

एलडीसी के लिए अटकी 11485 लोगों को मिलेगी नौकरी

प्राइवेसी के वायलेशन का सबूत नहीं

– श्रीधर आचार्युलू ने कहा, “इस प्रश्न के सिलसिले में सीपीआईओ मीनाक्षी सहाय ने ऐसा कोई प्रूफ नहीं दिया है या इस संभावना पर कोई सफाई नहीं दी कि डिग्री की इन्फॉर्मेशन के खुलासे से प्राइवेसी का वॉयलेशन होता है।”

सीपीआईओ ने क्या दलील दी थी?

– सीपीआईओ मीनाक्षी सहाय ने कहा था, ” 1978 में बीए प्रोग्राम में दो लाख स्टूडेंट्स थे और बीए प्रोग्राम के जब तक सब्जेक्ट का जिक्र नहीं किया जाता है तब तक मांगी गई जानकारी देना आसान नही होगा। 1978 के एग्जाम रिजल्ट डिजिटल में भी नहीं है।”

कब सामने आया PM की डिग्री का मुद्दा

-अरविंद केजरीवाल ने पिछले साल अप्रैल में पीएम नरेंद्र मोदी की बीए की डिग्री को फर्जी बताया था।
– विवाद जब बढ़ा तो डीयू रजिस्ट्रार तरुण दास ने कहा था, “हमने अपने रिकॉर्ड चेक किए और यह प्रमाणित किया जाता है कि नरेंद्र मोदी ने 1978 में बीए पास किया था और उन्हें 1979 में डिग्री दी गई थी।”

CIC allows inspection of DU records of PM Narendra Modi’s degree 1978, Narendra modi, narendra modi degree,CIC,B.A. Degree,Narendra Modi B.A. degree, modi B.A. degree 1978,1978, Delhi university

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *