पहली महिला इंचार्ज अंजु मंगला ने मुस्कुराते हुए कहती हैं कि ‘मुझे जेलर न कहें

Don't call me a jailer” says a smiling Anju Mangla

Don’t call me a jailer” says a smiling Anju Mangla

Don’t call me a jailer” says a smiling Anju Mangla पहली महिला इंचार्ज अंजु

पहली महिला इंचार्ज अंजु मंगला ने मुस्कुराते हुए कहती हैं कि ‘मुझे जेलर न कहें

कड़ी सुरक्षा करने वाले तिहाड़ जेल में पुरुषों के कारागार की प्रथम

महिला इंचार्ज अंजु मंगला को खुद को ‘जेलर’ कहलाना अच्छा नही

लगता है , क्‍यों‍कि उनका मानना है कि यह शब्‍द एक प्रकार से कठोर व्‍यक्ति की छवि को पेश करता है.

अंजु मंगला ने मुस्कुराते हुए कहती हैं कि ‘मुझे कोई भी जेलर न कहें’. दरअसल,

दो महिलाएं- किरण बेदी और विमला मेहरा तिहाड़ ने जेल की महानिदेशक के तौर पर देश को सेवाएं दी हैं,

लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है , जब एक महिला को यहां पर पुरुषों की जेल का अधीक्षक नियुक्त किया गया है.

अंजु दैनिक आधार पर पुरुष कैदियों के साथ बातचीत करते नजर आती हैं. इसके साथ ही अंजू का कहना है

कि उनका मंत्र इन कैदियों के साथ एक व्यक्तिगत सौहार्द का काफी माहौल बनाना है चाहे वे महिला हों या पुरुष.

स्‍वभाव से बेहद मिलनसार इंचार्ज  मंगला कहती हैं कि वह एक ‘जेलर’ के बजाय

एक अधीक्षक कहलाना काफी पसंद करती हैं. दरअसल, उन्हें लगता है कि जेलर शब्द एक

प्रकार से ‘कठोर’ व्यक्ति की छवि पेश होती है.

महेंद्र सिंह धोनी ने मेरा करियर ही बदल दिया: रोहित शर्मा

अंजु मंगला इससे पूर्व महिलाओं की जेल की इंचार्ज के तौर पर सेवाएं दे चुकी हैं.

उन्होंने कहा, ‘यह एक प्रकार से चुनौती है,

लेकिन हमारे डीजी सुधीर यादव ने मेरे ऊपर काफी भरोसा जताया और

मैंने यह चुनौती स्वीकार की’. अंजू मंगला 18 से 21 वर्ष के आयुवर्ग में करीब 800 कैदियों की देखरेख की जिमेदारी दे रखी है

अंजू मंगला ने कहा, ‘ये सब कैदी मेरे लिए बच्चों की तरह हैं. वे काफी जोशपूर्ण, युवा और ऊर्जा से भरपूर हैं,

लेकिन उनकी इतनी ही गलती यह है कि उन्होंने कानून अपने हाथ में ले लिया’.

अंजू मंगला अपनी जेल को एक प्रकार से ‘गुरुकुल’ या एक ‘छात्रावास’ कहना बहुत पसंद करती हैं,

जहां पर इन कैदियों को शिक्षा दी जाती है.

Don’t call me a jailer” says a smiling Anju Mangla पहली महिला इंचार्ज अंजु

anju mangla don’t call me jailer jailor,Where prisoners are taught,Tihar jail in New Delhi, dislikes being called

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *