एग्जाम में आधार कार्ड के बिना स्टूडेंट्स नही दे पाएंगे परीक्षा

1998492_orig

 में आधार कार्ड के बिना स्टूडेंट्स नही दे पाएंगे परीक्षा

हाल में बदले हुए आधार कार्ड को यूज करने के नियम , अब एक्जाम में भी आधार कार्ड लागू होगा
नई दिल्ली: आधार कार्ड को यूज करने का विस्तार ज्यादा से ज्यादा करना सरकार का मकसद रहा है. सरकार का कहना है कि आधार कार्ड के ज्यादा इस्तेमाल से कई प्रकार की गलतियों से बचा जा सकता है जिससे सरकारी योजनाओं का लाभ जरूरतमंदों तक पहुंचाने में सरकार को मदद मिलेगी.
यही कारण है की से आए दिन आधार कार्ड के प्रयोग का विस्तार बड़ी तेजी से हो रहा है और सरकारी विभाग भी इसे अनिवार्य बता रहा हैं. हाल ही में सरकार ने इससे जुड़े कुछ फैसले लिए है जो आम आदमी को जानना अनिवार्य है
सीबीएसई ने बदला नियम आधार कार्ड को लेकर
हाल ही में सरकार के मंसूबो को नजर में रखते हुए सीबीएसई ने भी आधार कार्ड को लेकर नियम बदले है. अभी तक तो सरकारी कार्य में ही आधार कार्ड की आवश्यकता होती थी लेकिन , अब इसे पढ़ाई-लिखाई के लिए भी जरुरी कर दिया गया है. सुचना के अनुसार हम आपको बता दे की सीबीएसई ने सभी छात्रों के लिए साल 2018 से 10 वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा अनिवार्य होने वाली है. इश्के संचालन ने इस बारे में एक प्रस्ताव मंगलवार रखा जिसको मंजूरी मिल चुकी है .



हरियाणा बोर्ड ने आधार को बनाया अनिवार्य
फिलहाल, सीबीएसई छात्रों पर यह निर्भर रहता है कि वे स्कूल आधारित परीक्षा या बोर्ड परीक्षा में किसी एक को चुने. हरियाणा बोर्ड ने हल ही में निर्देश दिए हैं कि छात्रों को एग्जाम में बैठने के लिए उनके पास आधार कार्ड होना बहुत जरूरी है. साथ साथ जेइइ माईनस का फॉर्म भरने के लिए आधार कार्ड को जरुरी कर दिया है अगर किसी कैंडिडेट के पास आधार कार्ड नही होगा तो वो फॉर्म नही भर सकता क्योंकि इस बार ऑनलाइन फॉर्म अप्लाई करने के लिए में आधार नंबर देना अनिवार्य होगा . जम्‍मू-कश्‍मीर, असम और मेघालय के आवेदकों के लिए आधार कार्ड जरुरी नहीं है.

सीबीएसई करेगा मदद छात्रों का आधार बनवाने में
बिना आधार कार्ड वाले छात्रों का कार्ड बनवाने में सीबीएसई मदद करेगा. साथ ही कहा कि सीबीएसई स्‍टूडेंट्स के आधार कार्ड बनवाएगा. सीबीएसई ने इसके लिए कई सुविधा केंद्र बनाए हैं. साथ ही बोर्ड ने इन केंद्रों की सूची जेईई मेन्‍स की अधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया है.

सुविधा केंद्र पर रजिस्‍ट्रेशन कराने के बाद 3 से 5 हफ्तों में आधार कार्ड जारी कर दिया जाएगा. यदि आवेदन की अंतिम तिथि 2 जनवरी 2017 तक आधार कार्ड नहीं बन पाता है तो वह फॉर्म में आधार कार्ड के एनरोलमेंट नंबर को दे सकते हैं. एनरोलमेंट नंबर आधार के रजिस्‍ट्रेशन के समय मिले स्‍लिप पर लिखा होता है और यह 28 डिजिट का होता है.



आधार कार्ड और क्या हैं इसके लाभ

आधार संख्या प्रत्येक मनुष्य की जीवनभर की पहचान है.

आधार कार्ड संख्या से आपको मोबाईल फोन कनेक्शन, बैंकिंग, और सरकारी व गैर-सरकारी सेवाओं की सुविधाएं प्राप्त करने में आसानी होगी.

यह सरलता व किफायती तरीके से ऑनलाइन विधि से सत्यापन योग्य.

सरकारी एवं निजी डाटाबेस में से नकली पहचान को बड़ी संख्या में समाप्त करने में अनूठा एव ठोस प्रयास.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *